एसिडिटी का तुरंत इलाज | पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय | in Hindi

एसिडिटी या पेट की गैस की समस्या आम तौर पर 70% से अधिक लोगों मे पाई जाती है। यह पेट (पाचन तंत्र) से संबंधित एक आम समस्या है, इसे तुरंत ठीक किया जा सकता है।
एसिडिटी या पेट की गैस हाइड्रोक्लोरिक एसिड नामी पधार्थ और मुँह की लार द्वारा खाने को ठीक से विभक्त ना कर पाने और पाचन क्रिया ठीक से ना होने से होती है, इस के कई कारण हो सकते है।
जैसे ज़्यादा समय तक बैठे रहना, बार बार चाय पीना, अधिक मसालेदार खान पान, ज़्यादा मांसाहार भोजन, धूम्रपान, तम्बाकू, शराब आदि का सेवन, देर रात तक जागना, तनाव और कुछ दवाओं के सेवन से भी एसिडिटी या पेट की गैसकी समस्या हो सकती है।
एसिडिटी या पेट मे गैस होने के सामान्य लक्षण सीने में जलन, पेट या सिर मे दर्द होना, खट्टी डकारें आना, भूख ना लगना, पेट में सूजन, उलटी, दस्त, जी मिचलाना, पेट का फूलना जैसे लक्षण इस मे शामिल है।
आइए अब जानते हैं एसिडिटी या पेट की गैस का तुरंत इलाज कैसे किया जा सकता है, और साथ ही ये भी जानेंगे की पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय कौन से है। 

एसिडिटी का तुरंत इलाज | पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय | in Hindi

एसिडिटी या पेट की गैस का तुरंत इलाज

पुदीना, अजवाइन, काला नमक और निम्बू से पेट की गैस का तुरंत इलाज

पुदीने की 8 से 10 पत्तियां, आधा चम्मच अजवाइन, आधा चम्मच काला नमक लेकर इसे बारीक कूट कर आधा गिलास पानी मे मिलाले इस मे आधे निम्बू का रस मिला कर अच्छी तरह मिक्स कर के पीने से गैस, पेट की जलन और एसिडिटी से तुरंत छुटकारा मिल जाता हैं।

आवला सौंफ और गुड़ का शरबत

1 चम्मच आवले का रस, 1 चम्मच बारीक पीसी सौंफ और 2 चम्मच गुड़ को आधे गिलास पानी मे मिला कर इसका शरबत बना लें, इस शरबत को पीते ही एसिडिटी या पेट की गैस से तुरंत आराम मिल जाता हैं।

जीरा, दही और काले नमक से पेट की गैस का तुरंत इलाज

आधा गिलास दही मे आधा चम्मच जीरा पावडर, 2 चम्मच मिशरी 
पावडर और एक चुटकी काला नमक मिला कर पीने से सीने और पेट मे होने वाली जलन तुरंत बंद हो जाती हैं, किंतु ये नुस्खा सिर्फ दिन के समय ही लाभ दायक है, आयुर्वेद के अनुसार रात के समय दही नही खाना चाहिए।

हींग और अदरक से पेट की गैस का तुरंत इलाज

आधा चम्मच हींग और आधा चम्मच अदरक का रस आधे गिलास पानी मे अच्छा गर्म कर ले, थोड़ा ठंडा (हल्का गर्म) होने पर इसे पिएं, हींग और अदरक पेट की गैस को कम करने मे लाभदायक होती हैं और इस से एसिडिटी मे आराम मिलता हैं।

बैकिंग सोडा, काला नमक और निंबू

आधा गिलास पानी मे आधा चम्मच बैकिंग सोडा, आध चम्मच काला नमक और आधा निंबू का रस मिला कर पीने से पेट की गैस से तुरंत छुटकारा मिलता हैं, खट्टी डकार और सीने की जलन भी कम हो जाती हैं।

दालचीनी, ईलायची और हिंग

आधा गिलास पानी मे आधा चम्मच सौंफ का पावडर, आधा चम्मच दालचीनी पावडर, आधा चम्मच हिंग पावडर और दो पीसी ईलायची के साथ गुड़ मिला कर पीने से पेट की गैस मे तुरंत आराम मिलता है।

खड़ा धनिया और हरड़ से पेट की गैस का तुरंत इलाज

खड़ा धनिया, हरड़ और हरि सौंफ को गर्म कर काडा बना कर पीने से एसिडिटी या पेट की गैस का तुरंत इलाज हो जाता है।

पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय

त्रिकाटू चूर्ण

काली मिर्च, पिप्ली (इंडियन लोंग पेपर) और सोंठ (ड्राई जिंजर) बराबर मात्रा मे लेकर इसका चूर्ण बनाकर सुबह शाम लेने से पेट की सूजन खत्म होती है और पाचन तंत्र मे सुधार होता है, रोज़ाना ये चूर्ण लेने से पेट की गैस को जड़ से खत्म किया जा सकता है।

ईसबगोल

खाना खाने के आधा घंटे बाद 1 कप पानी मे 1 चम्मच ईसबगोल की भूसी मिला कर पिए और साथ मे 1 गिलास पानी और पिए ऐसा ज़्यादा समय तक कर ने से पेट की गैस की समस्या जड़ से खत्म हो जाती है।
ईसबगोल मे फाइबर की अधिक मात्रा होती है जो आंतों की मांसपेशियों को गतिशील और मल को मुलायम बनाती है इस लिए पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय मे इसे सब से अच्छा उपाय माना जाता है।

एलोवेरा

एंटी-इंन्‍फ्लामेटरी गुण के कारण एलोवेरा ज्यूस पीने से पेट की गैस का तुरंत इलाज हो जाता है और पाचन तंत्र मजबूत  होता है, इसी लिए पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय मे एलोवेरा का उपयोग अधिक फायदे वाला साबित होता है।

आलूबुखारा

हर रोज़ एक आलूबुखारा खाने से पेट की गैस को जड़ से खत्म किया जा सकता है, आलूबुखारा मे अधिक मात्रा मे फाइबर पाया जाता है, जो पाचन तंत्र को मज़बूत कर पेट की गैस को जड़ से खत्म कर देता है।

समस्‍थिति आसन

पेट की गैस का तुरंत इलाज करने और पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय मे योगासन भी बहोत लाभ दायक हैं, माना जाता हैं की रोज़ सुबह आधा घंटा समस्‍थिति आसन, नौकासन, अर्ध मत्स्येन्द्रासन और पश्चिमोतानासन करने से एसिडिटी को तुरंत और जड़ से खत्म किया जा सकता है।

जीवन शैली में बदलाव

रोज़ सुबह 30 मिनेट योग या व्यायाम करें।
30 मिनेट से ज़्यादा ना बैठे (हर 30 मिनेट बाद थोड़ा सा पैदल चले)।
आहार मे अधिक फल और सब्जियों से बने सलाद का सेवन करें।
पानी ज़्यादा से ज़्यादा पीए, पेप्सी, सोडा और कोक जैसे ड्रिंक बिल्कुल ना पिए।
सोने से 2 घंटे पहले खाना खाए और रात के समय खाना थोड़ा कम खाए।
खाना अच्छे से चबा कर खाये और खाने मे फाइबर युक्त आहार शामिल रखे, ऐसा करने से पेट की गैस को जड़ से खत्म किया जा सकता है।
FAQ

एसिडिटी का दर्द कहाँ होता है?

एसिडिटी या पेट मे गैस होने पर सीने में जलन होती है, पेट मे जलन या दर्द होता है, सिर मे भी दर्द होता है ज़्यादा तर लोगों मे पेट फूलना जैसी समस्या होती है, अधिक समय तक एसिडिटी रहने पर पेट में सूजन भी हो सकती है।

एसिडिटी में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए?

एसिडिटी मे क्या खाना चाहिए हरी सब्जियां, फल, गेहूं, पपीता, गाजर, अंगूर, आलूबुखारा, टमाटर, प्याज, ककड़ी, छिलके वाली दालें, पुदीना, फ्रूट सलाद, आवला, दही, शकरकंद, दलिया, सूजी ईसबगोल की भूसी, ईलायची, जीरा, सौंफ, खाना चाहिए।
एसिडिटी मे क्या नही खाना चाहिए शराब, गुटखा, तंबाकू, मैदे से बने पधार्थ, डेरी प्रोडक्ट, जंक फूड, पनीर, बैंगन, आलू, मूली, नीम्बू, उडद, बेसन, मसाले, मांसाहार, मिर्च, आचार, कोल्ड्रिंक्स, पिज़्ज़ा, बर्गर, नही खाना चाहिए।

एसिडिटी में दही खाना चाहिए

वैसे तो दही एसिडिटी मे बहोत लाभ दायक माना जाता है लेकिन दही का सेवन दिन मे करेंगे तो पाचन दुरुस्त रहेगा और एसिडिटी मे लाभ होंगा, लेकिन रात के समय दही खाना ठीक नही होंगा क्यों की दही को पचाने मे ऊर्जा की ज़रूरत होती है और रात मे हम सो जाते है जिस कारण उतनी ऊर्जा नही मिल पाती।

गैस एसिडिटी की आयुर्वेदिक दवा

काली मिर्च, पिप्ली और सोंठ बराबर मात्रा मे लेकर इसका चूर्ण बना ले इस चूर्ण को त्रिकाटू चूर्ण कहा जाता है, इसे सुबह शाम लेने से एसिडिटी या पेट की गैस का तुरंत इलाज हो जाता है, पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय मे इसे लंबे समय तक इस्तेमाल किया जाता है।
ईसबगोल भूसी सुबह शाम खाना खाने के बाद 1 चम्मच 1 कप पानी मे मिल कर लेने से एसिडिटी को जड़ से खत्म किया जा सकता है,

एसिडिटी के लिए एक्सरसाइज

रोज़ सुबह 30 मिनेट समस्‍थिति आसन, नौकासन, अर्ध मत्स्येन्द्रासन, पश्चिमोतानासन योगा (एक्सरसाइज) करने से एसिडिटी और पेट की गैस की समस्या को हमेशा के लिए ठीक किया जा सकता है।

पेट मे गैस के कारण दर्द

पेट मे गैस के कारण दर्द होने पर आधा गिलास पानी मे आधा चम्मच बैकिंग सोडा, आध चम्मच काला नमक और आधा निंबू का रस मिला कर पीने से पेट की गैस और पेट के दर्द से तुरंत छुटकारा मिलता हैं।

पेट में गैस बनना सिर में दर्द होना

आवला सौंफ और गुड़ का शरबत बना कर पिए आवला पेट में गैस को कम करने और गैस नही बनने मे मदद करता है, गुड़ एसिडिटी (पेट मे जलन) को कम कर पेट को ठंडा रखता है, सौंफ पेट की गैस कम कर मिचली नही होने देती और मुँह फ्रेश करती है।

छोटे बच्चों के पेट में गैस बनना

छोटे बच्चों के पेट में गैस बनने पर बच्चे को 1 से 2 मिनेट के लिए पेट के बल लिटाए ऐसा करने से पेट की गैस मे आराम मिलता है, 
बच्चे हाथ पैर चलाते रहते है जिस कारण बच्चो का पाचन तंत्र ठीक से काम करता है लेकिन आप को लगे की बच्चे के पेट मे गैस हो गई है तो आप बच्चे के पेट की हल्की हल्की मालिश कर सकते है,
बच्चे के पेट मे गैस होने पर कोई भी दवाई या घरेलू नुसखो पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।

Disclaimer

इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं, एसिडिटी या पेट की गैस का तुरंत इलाज और पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें, www.indiatimesdaily.com इनकी पुष्टि नहीं करता है।
Reactions

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ