किडनी खराब होने के लक्षण और रामबाण उपचार से किडनी पुनर्जीवित कैसे करें

किडनी खराब होने के लक्षण और रामबाण उपचार से किडनी पुनर्जीवित कैसे करें

लोगों में किडनी (kidney) की बीमारी से संबंधित जानकारी की कमी होने के कारण हर साल भारत मे 1 लाख से भी अधिक लोगों की मौत हो जाती है।

एक रिपोर्ट के अनुसार किडनी (kidney) की बीमारी मे 70℅ से अधिक मामले ऐसे पाए जाते हैं जिन मे लोगों को ये पता ही नही होता की किडनी खराब होने के लक्षण क्या होते हैं।

वही 45% से अधिक लोगों मे किडनी के लिए रामबाण क्या है और किडनी पुनर्जीवित कैसे करते है ये जानकारी नही होती।

ऐसे मे सभी के लिए किडनी से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी का होना आवश्यक हो जाता है।

इस लेख को पुरा और आखिर तक ज़रूर पढ़े ताकि ऐसी किसी भी समस्या से सर्तक रहा जा सकें और यदि पहले से ही ऐसी कोई समस्या या लक्षण दिखाई देने पर उपचार सही और समय पर किया जा सके तो चलिए शुरू करते है।

किडनी
kidney

मानव शरीर में पेट के पिछले हिस्से में रीढ़ की हड्डी के दोनों तरफ लाल-भूरे रंग का एक जोड़ जिसका आकर वयस्क आदमी या औरत मे लग भग 12 सेंटीमीटर आम भाषा मे मनुष्य की बंद मुठ्ठी जितना होता है इसे किडनी (kidney) कहते हैं।

किडनी का काम मूत्र उत्पादन करना और खून को साफ कर के खून मे मौजूद ज़ेहरिले पदार्थ (Toxins) को मूत्रद्वारा शरीर से बाहर करना होता है।

किडनी मे खराबी या सुजन होने पर शरीर मे बहोत सी समस्या उत्पन्न होने लगती है।

चलिए जान लेते है किडनी खराब होने के लक्षण के बारे मे और साथ ही हम इस लेख मे किडनी में सूजन के लक्षण और किडनी के लिए रामबाण क्या है जिसकी मदद से किडनी पुनर्जीवित की जा सकती है ये भी जानेंगे।

किडनी खराब होने के लक्षण

1. पेशाब करते समय पेशाब में खून का निकलना. 

2. पीठ मे दर्द होना और पैरों, हाथ और चेहरे पर सुजन का आना. 

3. बहोत ज़्यादा थकान का महसूस होना. 

4. पेशाब करते समय पेशाब मे जलन महसूस होना.

5. पेशाब का बहोत कम या बहोत ज़्यादा होना.

6. भूख कम लगना या भूख का ना लगना भी किडनी (kidney) खराब होने के लक्षण के रूप मे देखा जाता है.

7. बार-बार उल्टियां होना या मचलाहट होना.

8. उच्च रक्तचाप या रात के समय ब्लड प्रेशर का बढ़ना भी किडनी खराब होने के लक्षण हो सकते हैं.

9. शरीर मे हीमोग्लोबिन का कम बनना.

10. एनीमिया या शरीर में पीलापन दिखाई देना.

ये सभी किडनी खराब होने के लक्षण हैं। और साथ ही अब हम किडनी में सूजन के लक्षण के बारे मे भी जानेंगे।

किडनी में सूजन के लक्षण

1. उच्च रक्त चाप, हाई ब्लड प्रेशर.

2. खांसी का होना या सांस लेने में परेशानी होना.

3. हमेशा की तुलना मे पेशाब का कम होना.

4. पेशाब का रंग पीला होना या पेशाब मे झाग का होना.

5. पेट पर सुजन या पेट का फूलना और सुबह चेहरे पर हल्की सी सूजन का आना.

6. पीट और पसलियों का अकड़ना या दर्द होना.

7. पूरे शरीर पर लाल चकत्ते या खुजली का होना.

8. मुँह और सांस से बदबु का आना.

9. पीठ की मांसपेशियो में खिंचाव मासूस होना.

10. कभी कभी पेशाब मे जलन भी हो सकती है.

इन सभी लक्षणों मे किडनी खराब होने के लक्षण और किडनी में सूजन के लक्षण मे आपको कुछ अंतर दिखाई देंगा, अब जान लेते है किडनी (kidney) टेस्ट के बारे मे।

किडनी टेस्ट

1. युरिन टेस्ट कर किडनी खराब है या नही इस का पता लगाया जाता है.

2. सीरम क्रियेटिनिन टेस्ट कर डॉक्टर इस की जाँच करता है।

3. ब्लड टेस्ट मे खून मे मौजूद यूरिआ नाइट्रोजन का स्तर जाँचा जाता है।

4. पेशाब करने से पहले और पेशाब करने के बाद सोनोग्राफी या अल्ट्रासोनोग्राफी की जाती है जो किडनी (kidney) कितना काम कर रही है और किडनी का आकर बताती है.

5. किडनी टेस्ट करने के लिए आपको 3 से 7 हज़ार रु तक का खर्च आसकता है.

नोट:- किडनी खराब होने के लक्षण दिखाई देने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह से सम्य पर किडनी टेस्ट अवश्य करा ले। अब जान लेते है खराब किडनी को पुनर्जीवित कैसे किया जा सकता है।

किडनी पुनर्जीवित
किडनी पुनर्जीवित कैसे करे

हाल ही मे भारत मे निर्मित स्वदेशी दवा नीरी केएफटी खराब किडनी के इलाज मे बहोत ही सफल और अच्छे परिणाम वाली साबित हो रही है।

ऐसा माना जा रहा है की ये किडनी की क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को फिर से पुनर्जीवित करती है।

नीरी केएफटी दवा पूरी तरह आयुर्वेदिक है जिसका निर्माण गोखरू, पुनर्नवा, वरुण, पत्थरपूरा और पाषाणभेद से किया गया है।

इन 5 आयुर्वेदिक तत्वों को किडनी की मुत कोशिकाओं को फिर से पुनर्जीवित करने वाला सब से अच्छा आयुर्वेदिक उपचार माना जाता है।

कुछ शोध के नतीजे ये बताते है की पुनर्नवा गुर्दे की क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को फिर से पुनर्जीवित करता हैं.

किडनी खराब होने के लक्षण दिखाई देने पर डॉक्टर से टेस्ट के बाद ही डॉक्टर आप को ये दवाई दे सकता है। अब हम जानेंगे किडनी के लिए रामबाण क्या है।

किडनी के लिए रामबाण

1. एलोवेरा, ज्वारे और गिलोय का ज्यूस रोज़ाना पीने से हीमोग्लोबिन की कमी दूर होती है.

2. पुनर्नवा पौधे का रस सुबह शाम पिए ये मृत कोशिकाओं को फिर से पुनर्जीवित करता हैं.

3. सेंधा नमक या काला नमक खाएं ये ब्लड सरकुलेशन मे मदद करता हैं.

 4. मंडूर, गोक्षुरादी गुग्गुलु, चंद्रप्रभावटी, श्वेत पर्पटी भी किडनी की समस्या मे लाभकारी है.

5. गिलोय सत्व, मुक्ता पिष्टी, मुक्तापंचामृत रस, वायविडंग रक्त साफ कर मूत्र की समस्या को दूर करता है ये किडनी की खराबी को दूर करने मे गुणकारी है.

6. बार बार पानी पीने से आपकी किडनी (kidney) ठीक रहती हैं, पानी की कमी ही किडनी की खराबी का मुख्य कारण होता हैं.

7. पाषाण भेद (बर्जेनिआ सिलिएटा) आयुर्वेद ग्रंथों और आधुनिक अनुसंधान के अनुसार पाषाण भेद एक महत्वपूर्ण मूत्रवर्धक बुटी हैं इस मे demulcent और रोग परतिरोधक गुण पाए जाते हैं।

पाषाण भेद मूत्र की जलन को कम करता है और सूजनयुक्त आंतरिक ऊतकों की रक्षा करता है जो सामान्य मूत्र प्रवाह को बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण है।

8. शिलापुष्प Stone Flower की पत्तियों में एसेंशियल आईल पाया जाता है जिसका मुख्य घटक, डिडिमोकार्पेन है जो मूत्र पथ को मदद प्रदान करता है और रुक-रुक कर आने वाली मूत्र की परेशानी को खत्म करता है।

इस पूरे लेख को पढ़ने के बाद आप समझ गए होंगे की किडनी खराब होने के लक्षण क्या होते है।

साथ ही आप ये भी जान गए होंगे की किडनी के लिए रामबाण क्या है और किडनी को पुनर्जीवित कैसे किया जा सकता हैं।

उपर दिए गए लक्षण अगर किसी व्यक्ति मे नज़र आते हैं तो तुरंत डॉक्टर या पेशेवर स्वास्थ्य सलाहकार से संपर्क करे।इस बात का ध्यान रखे की कभी कभी मधुमेह या किसी अन्य कारणों से भी इन मे से कुछ लक्षण दिखाई दे सकते है।

बिना जाँच के दुनियाँ का कोई भी डॉक्टर आप की समस्या का निदान नही कर सकता इसलिए ज़रूरी होने पर डॉक्टर द्वारा बताई गई सभी जाँच समय से करें। 

नोट:- इस लेख का उद्देश आप को किडनी खराब होने के लक्षण और इस से संबंधित ज़रूरी जानकारी देना है।

हम किसी भी दवाई या आयुर्वेदिक बूटी बिना आयुर्वेदिक चिकित्सक या अन्य स्वास्थ्य देखभाल सलाहकार या सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त पेशेवर डॉक्टर से परामर्श के बिना लेने की सलाह नही देते।

आप इस बात का पुरा खयाल रखे की दवा या कोई भी आयुर्वेदिक बूटी की खुराक सुनसचित् करने हेतु अच्छे डॉक्टर की सलाह और देख रेख मे ही लेना आवश्यक होता हैं।

किडनी खराब होने के लक्षण और इस से संबंधित कोई भी सवाल आप हमें कॉमेंट कर के पूछ सकते है। और साथ ही इसे whatsapp, facebook या अन्य सोशल साइट्स पे शेयर कर के आप दूसरे लोगों की मदद भी कर सकते है। धन्यवाद.


Reactions

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ