किडनी में सूजन के लक्षण, Nephritis in hindi

किडनी में सूजन के लक्षण, Nephritis in hindi
किडनी मे सुजन के रोग को नेफ्राइटिस कहा जाता है यह रोग उपचार सवरूप जल्दी ठीक भी किया जा सकता हैं, लेकिन समय पर उपचार ना करने से ये किडनी खराब होने का कारण भी बन सकता हैं।

किडनी मे सूजन या नेफ्राइटिस मे किडनी पूरी तरह से खून को फिल्टर नहीं कर पाती जिस कारण पर्याप्त मात्रा में शरीर को अच्छा खून व ऑक्सीजन नही मिल पाता और शरीर मे विभिन्न समस्या उत्पन्न होने लगती है।

किडनी में सूजन के लक्षण वैसे तो सभी रोगियों में विभिन्न हो सकते हैं। लेकिन जो 8 प्रमुख लक्षण किडनी मे सुजन का संकेत देते हैं वह नीचे विस्तार से दिए गए हैं।

किडनी मे सुजन के 8 प्रमुख लक्षण जानने के लिए इस लेख को पुरा और अंत तक ज़रूर पड़े ताकी किडनी मे सूजन के लक्षण या नेफ्राइटिस की पहचान कर समय पर इसका उपचार किया जा सके।

किडनी में सूजन के लक्षण, Nephritis in hindi

पेशाब से किडनी में सूजन के लक्षण

 किडनी  मे सुजन के रोग मे पेशाब की मात्रा में कमी हो जाती है, आम भाषा मे पेशाब कम होना।

 पेशाब के कलर मे बदलाव होना या पेशाब का रंग हल्का पिला या पीला होना भी किडनी मे सुजन के संकेत है।

इस रोग मे पेशाब मे एक और खास बदलाव दिखाई देता हैं जैसे पेशाब मे झाग का होना।

पेशाब करते समय पेशाब मे जलन होना या पेशाब करते समय इस से बदबु का आना

पेशाब करते समय रुक रुक कर पेशाब का होना या पेशाब करते समय कमजोर व पतली धार जिसे जोर लगाने की आवश्यकता होना।

पेशाब मे ये लक्षण दिखाई देने पर तुरंत डॉक्टर से परामर्श करे क्यों की ये सभी किडनी में सूजन के लक्षण हैं।

चेहरे की सूजन किडनी में सूजन का लक्षण भी हो सकती है

किडनी में सूजन के लक्षण मे चेहरे, पेट, पैरों और हाथों में सूजन, साफ तौर से किडनी मे खराबी या किडनी मे सुजन का संकेत माना जाता हैं।

हाला की शुरुआती दौर मे सुबह के समय सिर्फ चेहरे और पलकों के नीचे हल्की सी सुजन दिखाई देती है।

लेकिन बहुत जल्दी ये पैरों और हाथ पैर मे भी नजर आने लग जाती हैं, जिस का पर्मुख कारण किडनी मे सुजन हो सकता हैं।

कुछ मामलों मे हाथ, पैर और चेहरे पर सुजन किसी अन्य कारणों से भी हो सकते है जैसे नेफ्रोटिक सिंड्रोम क्यों की इस रोग के लक्षण मे भी हाथ, पैर और चेहरे पर सुजन आती हैं।

मितली एवं उल्टियां भी है किडनी में सूजन के लक्षण

किडनी मे सुजन के कारण खून ठीक से फिल्टर नही हो पाता जिस कारण खून और शरीर मे विषाक्त पदार्थों का स्तर बढ़ने लगता है और रोगी को भूक नही लगती।

शरीर मे विषाक्त पदार्थ बढ़ने के कारण मुँह का स्वाद खराब हो जाता हैं और रोगी मे मितली और उलटी जैसी समस्या उत्पन्न होती है। कुछ मामलों मे रोगी मे अधिक समय तक हिचकियाँ भी आ सकती हैं।

मितली, उलटी, जी मचलाना और कई बार मरीज को अत्याधिक हिचकियाँ आना किडनी पर सुजन के लक्षण हैं।

पीट और पसलियों मे ये होते है किडनी में सूजन के लक्षण

किडनी पर सुजन होने पर पेट पर सुजन दिखाई देना आम बात है।

अधिक तर मामलों मे सुजन के साथ ही पेट का फूलना और  पेट दर्द के साथ ही पेट मे दबाव महसूस किया जा सकता हैं।

किडनी मे दर्द होना शरीर मे पीट और पसलियों के बीच मे पीछे के हिस्से मे जहाँ किडनी होती हैं उस हिस्से का अकड़ना या दर्द होना जैसी समस्या हो सकती है।

किडनी और पसली मे बहोत ज़्यादा दर्द पथरी का भी लक्षण हो सकता है इसलिए तुरंत डॉक्टर से संपर्क करे क्यों की बिना डॉक्टर और जाँच के इस रोग का अनुमान नही लगाया जा सकता।

उच्च रक्त चाप भी है किडनी में सूजन के लक्षण

उच्च रक्त चाप जिसे हम आम बोल चाल मे हाई ब्लड प्रेशर कहते हैं ये किडनी और इस से संबंधित सभी रोगों का सब से बड़ा कारण हैं।

उच्च रक्त चाप मे दिल अधिक गती से काम करना होता है जिस से रक्त का परवाह बहोत तेज़ हो जाता है तेज़ रक्त परवाह के कारण शरीर की बहोत सी रक्त वाहिका कमज़ोर हो जाती हैं।

तेज़ रक्त परवाह के कारण अधिक तर किडनी की छोटी वाहिका को नुकसान पहुँचता है या फिर ये मृत हो जाती है जिस कारण प्रोटीन की मात्रा बड़ ने लगती है।

प्रोटीन की मात्रा अधिक होने पर किडनी मे सुजन होती है और ये किडनी खराब होने का कारण भी बन सकती है।

डायबिटीज मे ये होते है किडनी में सूजन के लक्षण

ईस इथिति मे सब से पहला लक्षण यही दिखाई देता है की यूरीन से प्रोटीन निकलने लगता हैं इस की मात्रा या प्रमाण का पता लगाने के लिए केएफटी (किडनी फंक्शन टेस्ट) कराना अनिवार्य होता हैं।

डायबिटीज के रोगियों में रोग प्रतिरोधक शक्ति कमजोर हो जाती हैं जिस कारण यूरीन के संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है यदि यूरीन संक्रमण होता है तो ये किडनी मे सुजन या किडनी खराब होने का कारण भी बन सकता है।

डायबिटीज के कारण खून मे गुलूकोस की मात्रा बढ़ने से किडनी की कार्यप्रणाली असामान्य हो जाती है।

डायबिटीज के कारण हृदय रोग, फेफड़ों के संक्रमण और उच्च रक्तदाब की समस्या होती है जिससे किडनी पर और अधिक प्रभाव पड़ता है जिस कारण डायबिटीज के 70% से अधिक लोगों मे किडनी से संबंधित रोग पाए जाते है।

धूम्रपान, तम्बाकू और शराब का सेवन करने वालों मे ये होते हैं किडनी में सूजन के लक्षण

धूम्रपान करने से किडनी की कार्यक्षमता सुस्त हो जाती है इसका सीधा असर फेफड़ों पर पड़ता है जो फेफड़ों और किडनी की सुजन का कारण होता है।

गुटखा खाने वालो की रक्त वाहिका नलियां सिकुड़ने लगती जिस से विषैले तत्वों बाहर नही निकल पाते और यूरिन में प्रोटीन की मात्रा मे बिगाड़ पैदा होता है जो पेशाब के रास्ते बाहर निकलता है जिस कारण पेशाब से बदबु आना या झाग जैसे लक्षण दिखाई देते है।

शराब पीने वालो मे किडनी की सुजन ही नही बल्कि किडनी खराब होने का खतरा भी सब से अधिक होता है। शराब मे मौजूद एसिड की अधिक मात्रा किडनी खराब कर देती है इन लोगों मे पेट और किडनी पर सुजन साफ नज़र आती है (पेट का बड़ा होना) और हाथ, पैर और छाती का बारीक होना ये संकेत है की किडनी मे सुजन है और ये खराब हो चुकी है।

खांसी का होना या सांस लेने में परेशानी होना भी हैं किडनी में सूजन के लक्षण हैं

खंसी के साथ ही पेट या कमर मे दर्द होना और साथ ही पैरों , हाथ या चेहरे पर सुजन किडनी मे सुजन या किडनी मे खराबी का संकेत है।

सांस लेने में परेशानी होना और साथ ही बहोत ज़्यादा थाकावट और कमज़ोरी का आना या फिर मितली या उल्टियां आना भी किडनी मे सुजन और इस से जुड़े रोग का लक्षण हैं।

कुछ मामलों मे खांसी का होना या सांस लेने में परेशानी होना किसी अन्य रोग के कारण भी ही सकता है जैसे अस्थमा, टी बी, या अन्य कोई और इस लिए इस रोग का सही पता लगाने के लिए तुरंत डॉक्टर की सलाह ले और ब्लड टेस्ट अवश्य करवाले।

इस लेख को पुरा पढ़ने के बाद आप जान गए होंगे की किडनी में सूजन के लक्षण क्या होते है, लेकिन आप ये जान ले की बिना जाँच के दुनियाँ कोई भी डॉक्टर किसी भी रोग का सटीक अंदाज़ नही लगा सकता इसलिए लक्षण दिखाई देने पर तुरंत ब्लड और यूरिन टेस्ट अवश्य करवाले।

आशा करते है आप को हमारा ये लेख किडनी में सूजन के लक्षण आप को पसंद आया हो, पसन्द आने पर इसे अपने whatsapp, फेसबुक और सभी सोशल साइट पर शेयर ज़रूर करे ताकि ये जानकारी सभी तक पहुँचे और दूसरे लोगों की भी मदद हो। 

अगर आप किडनी में सूजन के लक्षण से संबंधित या अन्य किसी भी रोग या समस्या से संबंधित सवाल पूछना चाहते है तो कॉमेंट कर के पूछ सकते है हम सभी लोगों के सवालों के जवाब देने मे सक्षम हैं धन्यवाद। 

Reactions

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ